Pankaj Advani Biography in Hindi | पंकज आडवाणी का जीवन परिचय

Name : Pankaj Arjan Advani
Born : 24 July 1985, Pune Maharashtra
Profesion Billiards and Snooker Player
Father’s Name : Arjan Advani
Mother’s Name : Kajal Advani
 Nickname : The Prince of India The Golden Boy The Prince of Pune

पंकज आडवाणी का जीवन परिचय ( Pankaj Advani Biography )

पंकज आडवाणी का जन्म 24 जुलाई 1985 को पुणे महाराष्ट्र , भारत में हुआ था, पंकज ने कुवैत में अपने माता पिता अर्जन एवं काजल और बड़े भाई श्री के साथ अपने जीवन के पहले 6 साल बिताए। कम उम्र में ही पंकज के पिता की मृत्यु हो गई, उन्होंने फ्रैंक एंथनी पब्लिक स्कूल, बैंगलोर में अपनी शिक्षा प्राप्त की और श्री भगवान महावीर जैन कॉलेज से वाणिज्य में स्नातक की उपाधि पूरी की और उसके बाद उनको पूर्व राष्ट्रीय स्नूकर चैंपियन अरविंद सावर से स्नूकर में प्रशिक्षण मिला।

पंकज आडवाणी बिलियर्ड्स करियर (Pankaj Advani Billiards Career)

पंकज आडवाणी ने वर्ष 2002 में एशियाई बिलियर्ड्स चैम्पियनशिप में अपनी अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धी शुरुआत की, जहां वह रनर-अप रहे, उसके बाद 2005 में IEBSF विश्व बिलियर्ड्स चैंपियनशिप क्व्रा में, उन्होंने “ग्रैंड डबल” नामक प्रतियोगिता जिसमे समय और बिंदु प्रारूप दोनों जीतकर इतिहास बनाया, पुनः उन्होंने 2008 में बैंगलोर में यह कामयाबी फिर दोहराई। आडवाणी सबसे युवा खिलाडी हैं जिन्होंने सभी विश्व खिताब 8 बार जीते हैं, वह एकमात्र ऐसा व्यक्ति है जिसने एक ही सत्र में सभी राष्ट्रीय, क्षेत्रीय और विश्व के खिताब जीते हैं। 2009 में, आडवाणी ने लीड्स में WUPBSA (वर्ल्ड प्रोफेशनल बिलियर्ड्स और स्नूकर एसोसिएशन) का खिताब जीता पुनः उसी वर्ष उन्होंने IEBSF विश्व बिलियर्ड्स खिताब और IEBSF वर्ल्ड स्नूकर चैम्पियनशिप भी जीती नतीजतन, वह उसी वर्ष तीनों खिताब जीतने वाले पहले व्यक्ति बने, उन्होंने फिर से 2012 में भी यह कारनामा फिर से दोहराया। 2012 में गोवा में आडवाणी ने अपना 5 वां एशियाई बिलियर्ड्स चैम्पियनशिप जीता, ऐसा करने वाला पहला खिलाड़ी थे, उस वर्ष उन्होंने अपना सातवाँ विश्व बिलियर्ड्स चैंपियनशिप खिताब जीता।

पंकज आडवाणी स्नूकर करियर (Pankaj Advani Snooker Career)

आडवाणी ने चीन के जियांगनेम में IEBSF स्नूकर विश्व चैम्पियनशिप में अपने अंतरराष्ट्रीय प्रतिस्पर्धी स्नूकर की शुरुआत की और टूर्नामेंट भी जीता, यह उनका पहला विश्व खिताब था और वह टूर्नामेंट का सबसे कम उम्र में जितने वाले खिलाड़ी बना। आडवाणी ने 2012 में एक स्नूकर पेशेवर बन गए और 2012-13 का सत्र पेशेवर स्नूकर खिलाड़ी के रूप में उनका पहला टूर्नामेंट था, 2013 वेल्श ओपन के दौरान, आडवाणी रैंकिंग कार्यक्रम के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले पहले भारतीय बने। 2013-14 सत्र में, दिल्ली में एक स्नूकर रैंकिंग टूर्नामेंट खेला गया था, आडवाणी क्वार्टर फाइनल में पहुंचे जहां उन्हें अपने ही साथी आदित्य मेहता को हराया था। इस दौरान पंकज का रैंकिंग में 56 वां स्थान रहा था, आडवाणी ने अपने बिलियर्ड्स करियर पर ध्यान केंद्रित करने और अपने परिवार के साथ अधिक समय बिताने के लिए 2014-15 के अधिकांश सत्रों में भाग नहीं लिया। पंकज आडवाणी ने एशियाई 6-रेड स्नूकर खिताब जीतकर 2016 में इतिहास बनाया। इस वर्ष वह दुनिया और एशियाई खिताब जीतने वाले पहले खिलाड़ी बने और वह भारतीय ओपन के दूसरे दौर में पहुंचे फिर उन्होंने छह-लाल विश्व चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में पहुंचकर अंतिम चैंपियन डिंग जिंहुई से हार गए।

पंकज आडवाणी पुरस्कार और उपलब्धियां

  1. पद्म भूषण, भारत का तीसरा सर्वोच्च नागरिक सम्मान, 2018
  2. राजीव गांधी खेल रत्न, भारत का सर्वोच्च खेल सम्मान, 2005-06
  3. राज्योत्तर पुरस्कार, कर्नाटक के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार, 2007
  4. 2007 में कर्नाटक के ‘केम्पेगोड़ा पुरस्कार”
  5. 2007 में एकलव्य पुरस्कार
  6. 2005 में भारत के “अंतर्राष्ट्रीय भारतीय” पुरस्कार
  7. वर्ष 2005 के वरिष्ठ खिलाड़ी, बैंगलोर के स्पोर्ट्स राइटर्स एसोसिएशन
  8. बैंगलोर यूनिवर्सिटी स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ द ईयर, 2005
  9. 2004 में हीरो इंडिया स्पोर्ट्स अवॉर्ड (एचआईएसए)
  10. 2004 में राजीव गांधी पुरस्कार
  11. 2004 में अर्जुन पुरस्कार
  12. इंडो-अमेरिकन यंग अचीवर्स पुरस्कार – 2003
  13. वर्ष 2003 स्पोर्ट्स पर्सन ऑफ द ईयर

You might like

About the Author: Techinhelp

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *